Tuesday 22 August 2023

 पैसे का महत्व

एक छोटे से गाँव में रहने वाला एक लड़का था, जिसका नाम था मोहन। मोहन बहुत ही मेहनती और बुद्धिमान लड़का था। वह स्कूल में अच्छे नंबर लाता था और अपने माता-पिता का बहुत सम्मान करता था।

एक दिन, मोहन के पिता की तबीयत बहुत खराब हो गई। उन्हें शहर के बड़े अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन वहाँ उनके इलाज के लिए बहुत पैसे लग रहे थे। मोहन के पिता के पास इतना पैसा नहीं था।

मोहन ने अपने पिता के इलाज के लिए पैसे जुटाने का फैसला किया। उसने अपने दोस्तों से मदद माँगी, और उन्होंने उसे थोड़ा पैसा दिया। मोहन ने अपने पड़ोसियों से भी मदद मांगी, और उन्होंने भी उसे थोड़ा पैसा दिया।

मोहन ने अपने बचाए हुए पैसे से अपने पिता के इलाज के लिए शहर के बड़े अस्पताल में ले जाया गया। डॉक्टरों ने उनके पिता का इलाज किया, और उनकी तबीयत में सुधार होने लगा। मोहन बहुत खुश था कि उसके पिता ठीक हो रहे थे।

मोहन को समझ आ गया था कि पैसा जीवन में बहुत जरूरी है। पैसे से हम अपने परिवार की देखभाल कर सकते हैं, अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं और दूसरों की मदद कर सकते हैं।

मोहन ने बड़े होकर एक डॉक्टर बनने का फैसला किया। वह डॉक्टर बनकर गरीब लोगों की मदद करना चाहता था।

मोहन ने मेहनत करके पढ़ाई की और डॉक्टर बन गया। वह एक अच्छा डॉक्टर बन गया और गरीब लोगों की मदद करता था। वह अपने पिता के इलाज के लिए पैसे जुटाने के लिए जो मेहनत किया था, उसका उसने हमेशा आदर किया।

शिक्षा

पैसा जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह हमें अपने जीवन की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने में मदद करता है, जैसे कि भोजन, कपड़े और आश्रय। यह हमें अपने सपनों को पूरा करने में भी मदद कर सकता है, जैसे कि उच्च शिक्षा प्राप्त करना, अपना व्यवसाय शुरू करना या अपना घर खरीदना।

हालांकि, पैसा सब कुछ नहीं है। पैसा हमें खुशी या संतुष्टि नहीं दे सकता है। हमें अपने जीवन में अन्य मूल्यों, जैसे कि स्वास्थ्य, प्रेम और परिवार पर भी ध्यान देना चाहिए।

निष्कर्ष

पैसा एक उपकरण है जिसका उपयोग हम अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए कर सकते हैं। हमें पैसे का जिम्मेदारी से उपयोग करना चाहिए और दूसरों की मदद करने के लिए इसका उपयोग करना चाहिए।

Read more ...

Monday 14 August 2023

मनजोत सिंह बायोग्राफी | manjot singh wiki dob gf biography controversy in hindi

 मनजोत सिंह एक प्रसिद्ध भारतीय फिल्म अभिनेता हैं। वह बॉलीवुड फिल्म उद्योग में काफी सफलता प्राप्त कर चुके हैं। मनजोत सिंह का जन्म  7 जुलाई 1992 को परमजोत सिंह और अमृता कौर सिंह के घर है। नई दिल्ली में उनकी अभिनय करियर की शुरुआत ओए लकी! लकी ओए से किया हैं।


 
साथ ही, सिंह ने अपनी प्रतिभा के बल पर काफी प्रशंसा प्राप्त की है और हिंदी सिनेमा में अपना अलग मुकाम बनाया है।मनजोत सिंह ने सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेता के रूप में फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड जीता है।

फियर फैक्टर - खतरों के खिलाड़ी लेवल 3 में मंजोत सिंह एक प्रतियोगी के रूप में काम किया और वो इस शो में 05वीं रैंक पर आए थे। HTML Table Generator
नाम  मनजोत सिंह 
जन्म  7 जुलाई 1992 
जन्म स्थान   नई दिल्ली 
राष्ट्रीयता   भारतीय 
धर्म  सिख 
शिक्षा   हिल वुड अकादमी 
करियर   अभिनेता  
डेब्यू फ़िल्म   ओय लकी लकी  ओय 
पुरस्कार  फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड 
नेट वर्थ 2 करोड़ 50 लाख

मनजोत सिंह फैमिली

मनजोत सिंह जन्म नई दिल्ली में सिख परिवार मैं हुआ और इनके पिता का नाम परमजोत सिंह एक बिजनेसमैन और इंजीनियर है, और उनकी मां का नाम अमृता कौर सिंह जो गृहिणी हैं और इनके एक बड़े भाई है जो की ऑस्ट्रेलिया में काम करते है उनका नाम साहबजोत सिंह  है।
HTML Table Generator
नाम 
मनजोत सिंह
 माता का नाम   अमृत कौर सिंह
पिता का नाम   परमजोत सिंह 
भाई का नाम    साहबजोत सिंह 
बहन का नाम    

मनजोत सिंह की प्रारंभिक शिक्षा

अपनी स्कूली शिक्षा नई दिल्ली स्थित हिलवुड्स अकादमी से पूरी की । और ऐक्टिंग करियर में ध्यान दिया और अपना करियर बनाया।

मनजोत सिंह का फिल्म करियर

मनजोत सिंह  ने अपने फिल्म करियर की शुरुआत 2008 में फिल्म ओय लकी लकी ओए से किया जिसमे युवा लोविंदर 'लकी' सिंह की भूमिका निभाई इसी फिल्म में इनको फ़िल्मफ़ेयर समीक्षक पुरस्कार मिला अपने पहले ही फिल्म में इनको फिल्मफेयर अवार्ड मिला। इस फिल्म में काम करें से पहले ये कभी भी नाटक और कही काम नहीं किया था। और इनकी दूसरी फिल्म 2010 में उड़ान Maninder Singh और इसके बाद इन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा अभी तक 20 से भी ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके है,ये फिल्मों खास कर सहायक अभिनेता के रूप में जाने जाते हैं।
आपको बता दें मनजोत सिंह को फिल्म ‘फुकरे’ से असली पहचान मिली। इस फिल्म में उन्होंने ‘लल्ली’ का रोल प्ले किया था। इस कॉमेडी फिल्म में काम करने के बाद मनजोत किसी पहचान के मोहताज नहीं रह गए।  इसके बाद उन्हें ‘उड़ान’, ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’, ‘अजहर’ और ‘फुकरे रिटर्न्‍स’ जैसी फिल्मों में काम करने का मौका मिला।

मनजोत सिंह की गर्लफ्रेंड

मनजोत सिंह को दो नामों के साथ बहुत जोडा जाता है आयशा और सृष्टि जैन के साथ लेकिन इन्हें ज्यादा सृष्टि जैन के साथ देखा गया है।

मंजोत सिंह कंट्रोवर्सी

मंजोत सिंह ने कास्टिंग डायरेक्टर्स को सलाह दी है। सिंह का कहना है कि, अगर मैं बुरा एक्टर हूं तो मुझे मत चुनो, लेकिन सरदार होने के कारण मुझे मत नकारो। वहीं, एक्टर ने साफ किया कि रोल पाने के लिए वे कभी भी अपने बाल नहीं कटाएंगे।

उन्होंने जब हैरी मेट सेजल (2017) में अनुष्का शर्मा और शाहरुख खान के साथ अभिनय किया। लेकिन दुर्भाग्य से, कुछ मुद्दों के कारण उनके दृश्य फिल्म से हटा दिए गए।

मनजोत बता रहे हैं, "कुछ साल पहले मेरे बारे में कुछ गलत खबरें सामने आई थीं कि मैंने अपने बाल काट लिए हैं। सरदार होने के नाते, जब मुझे इसे पढ़ने को मिला, तो मैं  हैरान रह गया कि कोई व्यक्तिगत बात कैसे लिख सकता है बिना मुझे जानते हुए। बाद में, मुझे अनुभूति हुई कि सोशल मीडिया में फ़ायदे और नुकसान होते हैं। अगर आप सच्चे हैं तो भी आप सोशल मीडिया पर लोगों को यह समझाने में असमर्थ हो सकते हैं कि आप सही हैं।"

मनजोत सिंह को प्राप्त अवार्ड

फ़िल्मफ़ेयर समीक्षक पुरस्कार 2009 में

मनजोत सिंह का इंस्टाग्राम

मनजोत सिंह के इंस्टा में 2 लाख से ज्यादा फोलोवर हैं ये अपने फिल्मों के पोस्ट शेयर करते रहते है और ब्रांड प्रमोशन भी करते है।

मनजोत सिंह की कुल संपत्ति

2023 के अनुसार मनजोत सिंह की कुल आय 2 करोड़ 50 लाख रुपए है। और ये पर फिल्म 10 से 15 लाख रुपए चार्ज करते है।

मनजोत सिंह ब्रांड प्रमोशन

मनजोत सिंह ने कई ब्रांड के साथ पार्टनरशिप की है और उनके प्रचार कार्य किए हैं। कुछ प्रमुख ब्रांड हैं:
1. Thums Up: मनजोत सिंह ने पॉपुलर शराबती ब्रांड "Thums Up" के साथ कई ऐडवर्टाइजमेंट्स किए हैं।
2. फिलिप्स: मनजोत सिंह ने फिलिप्स का साम्राज्यिक स्तर का एम्बेसडर बना उनके कुछ उत्कृष्ट एडवर्टाइजमेंट्स सबसे पहले ही आए हैं।
3. अख़बार THE TRIBUNE को भी सिंगी ने विज्ञापन कीया है।
ये कुछ उदाहरण हैं, लेकिन वह और भी ब्रांडों के साथ काम कर सकते हैं जो उनके लिए एडवर्टाइजमेंट्स करने के लिए उपयुक्त हों।

मनजोत सिंह द्वारा काम किए गए फिल्म

ओए लकी! लकी ओए! 2008 में
उड़ान 2010
शुद्ध पंजाबी,स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2012 में दो फिल्म
Fukrey,क्या बकवास है, 2013 में दो फिल्म
Balwinder Singh Famous Ho Gaya 2014 में
घपला, जोया,अज़हर 2016 में तीन फिल्म
Jab Harry Met Sejal,शून्य रेखा,Fukrey Returns 2017 में तीन फिल्म
Morjim 2018 में
स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2,अर्जुन पटियाला,दंड,सपनो की रानी 2019 में चार फिल्म
ड्रीम गर्ल 2,Fukrey 3 2023 में

मनजोत सिंह  टेलीविजन शो

Khatron Ke Khiladi 2010 में
आपकी स्थिति क्या है 2018 में
कॉलेज रोमांस 2018 से 2023 तक
स्वर्ग में बना 2019 में
Zindagi inShort 2020 में
चुट्ज़पाह 2021 में 
Read more ...

Sunday 26 February 2023

दहेज प्रथा पर निबंध | Dowry System Essay in Hindi

 मानवीय समाज में विकास और सामाजिक जीवन की शुरुआत के लिए विवाह को एक पावन और अनिवार्य बंधन के रूप में स्वीकार किया गया है। वैवाहिक जीवन में नर-नारी एक-दूसरे के पूरक बनकर जीवन को और मधुर बनाते हैं और भारतीय संस्कृति में जो पितृ ऋण होता है उसे वंश वृद्धि के रूप में बढ़ाते हैं।

एक पुरुष के जीवन में स्त्री शीतल जल की तरह होती है जो उसके जीवन को अपने प्यार और सहयोग से सुखी और शांतिपूर्ण बनाती है। लेकिन आज भारत के समाज में जो अनेक कुरीतियाँ फैली हुई हैं वो सब भारत के गौरवशाली समाज पर एक कलंक के समान हैं।



जाति, छूआछूत और दहेज जैसी प्रथाओं की वजह से ही विश्व के उन्नत समाज में रहने पर भी हमारा सिर शर्म से झुक जाता है। समय-समय से कई लोग और राजनेता इसे खत्म करने की कोशिश करते रहते हैं लेकिन इसका पूरी तरह से नाश नहीं हो पाया है । दहेज प्रथा दिन-ब-दिन और अधिक भयानक होती जा रही है।

जब हम समाचार पत्रों को पढ़ते हैं तो हमें ज्यादातर ऐसी खबरे मिलती हैं जैसे- सास ने बहु पर तेल छिड़ककर आग लगा दी, दहेज न मिलने की वजह से बारात लौटाई, स्टोव फट जाने की वजह से नवविवाहित स्त्री की मृत्यु हो गई। जब हम इन समाचारों को विस्तार से पढ़ते हैं तो हमारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। कभी-कभी हम यह सोचने के लिए बाध्य हो जाते हैं कि क्या कोई मनुष्य सच में इतना निर्मम और जालिम हो सकता है ?

दहेज प्रथा

दहेज शब्द अरबी भाषा के जहेज शब्द से निर्मित हुआ है जिसका अर्थ होता है सौगात। साधारणतया दहेज का अर्थ होता है- विवाह के समय दी जाने वाली वस्तुएँ। जब लडकी का विवाह किया जाता है तो वर पक्ष को जो धन, संपत्ति और सामान दिया जाता है उसे ही दहेज कहते हैं।

हमारे समाज के अनुसार विवाह के बाद लडकी को माता-पिता का घर छोडकर पति के घर जाना होता है। इस समय में कन्या पक्ष के लोग अपना स्नेह दर्शाने के लिए लडकों के संबंधियों को भेंट स्वरूप कुछ-न-कुछ अवश्य देते हैं।

दहेज प्रथा का आरम्भ

ऐसा लगता है जैसे कि यह प्रथा बहुत ही पुरानी है। प्राचीन काल से हमारे भारत में इस कथा का चलन होता आ रहा है। हमारे भारत में कन्यादान को एक धार्मिक कर्म माना जाता है। दहेज प्रथा का वर्णन हमारी लोक कथाओं और प्राचीन काव्यों में भी देखा जा सकता है।

प्राचीनकाल में बेटी को माता-पिता के आशीर्वाद के रूप में अपनी समर्थ शक्ति के अनुसार वस्त्र, गहने, और उसकी गृहस्थी के लिए सामान भेंट में दिया जाता था। इस दहेज का उद्देश्य वर वधु की गृहस्थी को सुचारू रूप से चलाना था। प्राचीनकाल में लडकी का मान-सम्मान ससुराल में उसके व्यवहार और संस्कारों के आधार पर तय किया जाता था न कि उसके लाए हुए दहेज पर।

सात्विक रूप

दहेज को एक सात्विक प्रथा माना जाता था। जब पुत्री अपने पिता के घर को छोडकर अपने पति के घर जाती है तो उसके पिता का घर पराया हो जाता है। उसका अपने पिता के घर पर से अधिकार खत्म हो जाता है। अत: पिता अपनी संपन्नता का कुछ भाग दहेज के रूप में विदाई के समय अपनी पुत्री को दे देता है।

दहेज में एक और सात्विक भावना भी है। दहेज का एक सात्विक रूप कन्या का अपने घर में श्री समृद्धि की सूचक बनना है। उसके खाली हाथ को पतिगृह में अपशकुन माना जाता है। इसी वजह से वह अपने साथ कपड़े, बर्तन, आभूषण और कुछ ऐसे प्रकार के पदार्थों को साथ लेकर जाती है।

विकृत रूप

दहेज प्रथा आज के युग में एक बुराई का रूप धारण कर चुकी है। आज के समय में दहेज प्रेम पूर्वक देने की नहीं बल्कि अधिकार पूर्वक लेने की वस्तु बनता जा रहा है। आधुनिक युग में कन्या को उसकी श्रेष्ठता और शील-सौंदर्य से नहीं बल्कि उसकी दहेज की मात्रा से आँका जाता है।

आज के समय में कन्या की कुरूपता और कुसंस्कार दहेज के आवरण की वजह से आच्छादित हो गये हैं आज के समय में खुले आम वर की बोली लगाई जाती है। दहेज में राशि से परिवारों का मुल्यांकन किया जाता है। पूरा समाज जिसे ग्रहण कर लेता है वह दोष नहीं गुण बन जाता है।

इसी के परिणाम स्वरूप दहेज एक सामाजिक विशेषता बन गयी है। दहेज प्रथा जो शुरू में एक स्वेच्छा और स्नेह से देने वाली भेंट होती थी आज वह बहुत ही विकट रूप धारण कर चुकी है। आज के समय में वर पक्ष के लोग धन राशि और अन्य कई तरह की वस्तुओं का निश्चय करके उन्हें दहेज में मांगते हैं और जब उन्हें दहेज मिलने का आश्वासन मिल जाता है तभी विवाह पक्का किया जाता है।

इसी वजह से लडकी की खुशी के लिए लडके वालों को खुश करने के लिए ही दहेज दिया जाता है। आज के समय में लोग धन का हिसाब लगाते हैं कि इतने सालों से हर महीने का कितना रुपया जमा होगा।

दहेज प्रथा के कारण

एक तरफ जहाँ पर वर पक्ष के लोगों की लोभी वृत्ति ने भी इस कुरीति को बहुत अधिक बढ़ावा दिया है। दूसरी जगह पर कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने बहुत कालाधन कमाया जिसकी वजह से वे बढ़-चढकर दहेज देने लगे। उनकी देखा-देख निर्धन माता-पिता भी अपनी बेटी के लिए अच्छे वर ढूंढने लगे और उन्हें भी दहेज का प्रबंध करना पड़ा।

दहेज का प्रबंध करने के लिए निर्धन माता-पिता को बड़े-बड़े कर्ज लेने पड़े, अपनी संपत्ति को बेचना पड़ा और बहुत से कठिन परिश्रम करने पड़े लेकिन फिर भी वर पक्ष की मांगें बढती ही चली गयी दहेज प्रथा का एक सबसे प्रमुख कारण यह भी है कि लडकी को कभी बराबर ही नहीं समझा गया।

वर पक्ष के लोग हमेशा यह समझते हैं कि उन्होंने कन्या पक्ष पर कोई एहसान किया है। यही नहीं वे विवाह के बाद भी लडकी को पूरे मन से अपने परिवार का सदस्य स्वीकार नहीं कर पाते हैं। इसी वजह से वे बेचारी सीधी-साधी, भावुक, नवविवाहिता को इतने कठोर दंड देते हैं।

दहेज प्रथा के दुष्परिणाम

दहेज प्रथा की वजह से ही बाल विवाह, अनमेल विवाह, विवाह विच्छेद जैसी प्रथाओं ने फिर से समाज में अपना अस्तित्व स्थापित कर लिया है। दहेज प्रथा की वजह से कितनी बड़ी-बड़ी समस्याएं आ रही हैं इसका अनुमान भी नहीं लगाया जा सकता है।

जन्म से पहले ही गर्भ में लडकी और लडकों की जाँच की वजह से लडकियों को गर्भ में ही मरवा देते हैं जिसकी वजह से लडकों और लडकियों का अनुपात असंतुलित हो गया है। लडकियों के T-पिता दूसरों की तरह दहेज देने की वजह माता- से कर्ज में डूब जाते हैं और अपनी परेशानियों को और अधिक बढ़ा देते हैं।
लडके वाले अधिक दहेज मांगना शुरू कर देते हैं और दहेज न मिलने पर नवविवाहिता को तंग करते हैं और उसे जलाकर मारने की भी कोशिश करते हैं। कभी-कभी लडकी यह सब सहन नहीं कर पाती है और आत्महत्या करने के लिए विवश हो जाती है या फिर तलाक देने के लिए मजबूर हो जाती है।

दहेज न होने की वजह से योग्य कन्या को अयोग्य वर को सौंप दिया जाता है। जो कन्याएं अयोग्य होती हैं वे अपने धन के बल पर योग्य वरों को खरीद लेती हैं। माता-पिता अपने बच्चों की खुशी के लिए गैर कानूनी काम भी करने से पीछे नहीं हट पाते हैं। आज के समय में लडकों और लडकियों की खुले आम नीलामी की जाती है।

आज के माता-पिता अपने सरकारी, अधिकारी और इंजीनियर लडके को लाखों से कम में नीलाम नहीं करते हैं जिसकी वजह से अनेक सामाजिक कुरीतियाँ भी उत्पन्न हो जाती हैं। रोज समाचार पत्र और पत्रिकाओं में पढ़ा जाता है कि दहेज न मिलने की वजह से लडकी पर उसके ससुराल वालों ने अमानवीय और क्रूर अत्याचार किये जिसकी वजह से आधुनिक पीढ़ी बहुत अधिक प्रभावित होती है।

उन्हें देखने को मिलता है कि स्टोव फटना, आग लगना, गैस या सिलिंडर से जलना यह सब कुछ सिर्फ नवविवाहिताओं के साथ ही होता है। आज की नारी जागृत, समानता, वैज्ञानिक दृष्टि, प्रगति और चहुमुखी विकास के इस युग में अपनी वास्तविकता की भावना से हटकर दहेज प्रथा एक तरह से दवाब डालकर लाभ कमाने का एक सौदा और साधन बनकर रह गया है। दहेज अपनी आखिरी सीमा को पार करके एक सामाजिक कलंक बन चूका है।

दहेज प्रथा का समाधान

अगर दहेज प्रथा को खत्म करना है तो उसके लिए खुद युवकों को आगे बढना चाहिए। उन्हें अपने माता-पिता और सगे संबंधियों को बिना दहेज के शादी करने के लिए स्पष्ट रूप से समझा देना चाहिए। जो लोग नवविवाहिता को शारीरक और मानसिक कष्ट देते हैं युवकों को उनका विरोध करना चाहिए।

दहेज प्रथा को खत्म करने के लिए नारी का आर्थिक दृष्टि से स्वतंत्र होना भी बहुत जरूरी होता है। जो युवती अपने पैरों पर खड़ी होती है उस युवती से कोई भी अनाप-शनाप नहीं कह सकता है। इसके अलावा वह पूरे दिन घर में बंद नहीं रहेगी और सास और नंद के तानों से भी बच जाएगी।

'के बहु के नाराज होने की वजह से मासिक आय के हाथ से निकल जाने का डर भी उन्हें कुछ बोलने नहीं देगा। लडकियों को हमेशा लडकों के बराबर समझना होगा और उन्हें भी लडकों जितने ही अधिकार और शिक्षा भी देनी होगी । दहेज की लड़ाई को लड़ने में कानून भी हमारी सहायता कर सकता है।

जब से हमारा देश दहेज निषेध विधेयक बना है तब से वर पक्ष के अत्याचारों में बहुत कमी आ गयी है। दहेज प्रथा की बुराई को तभी खत्म किया जा सकता है जब युवक और युवतियां खुद जाग्रत होंगे। जो लोग दहेज देते और लेते हैं उन पर कड़ी से कड़ी कर्यवाई की जानी चाहिए और उन पर जुर्माना भी लगाया जाना चाहिए।

विवाह में अधिक खर्च और अधिक बारातियों को रोकने का विधान था। लेकिन जब कानून को समाज का सहयोग नहीं मिल रहा हो तो कानून भी विवश हो गया है। दहेज प्रथा को सामाजिक चेतना और नैतिक जागृति के माध्यम से खत्म किया जा सकता है। अनेक प्रकार की स्वयं सेवी संस्थाओं के द्वारा दहेज प्रथा के विरुद्ध आंदोलन चलाकर इसे कम कर सकते हैं।

युवतियां दहेज प्रथा को खत्म करने में विशेष योगदान दे सकती हैं वे अपने माता-पिता को दहेज न देने के लिए प्रेरित करें और लोभी व्यक्तियों से विवाह न करें। लोग दहेज का सख्ती से विरोध करें इसकी वजह से जो लोग दहेज की मांग करते हैं उनमें एक प्रकार से प्रेरणा उत्पन्न हो जाएगी। अगर बिना दहेज के विवाह के लिए उन्हें सरकार द्वारा प्रोत्साहन दिया जाये और उन्हें सम्मान और पुरुष्कृत करने से भी समाज में बहुत परिवर्तन किया जा सकता है।

उपसंहार

यह समस्या किसी एक पिता की नहीं बल्कि पूरे राष्ट्र की समस्या है। इसकी वजह से जीवन बगिया नष्ट हो जाती है। दहेज प्रथा हमारे समाज के लिए एक कोढ़ साबित हो रही है। दहेज को खत्म करने के लिए हमें अपनी मानसिकता को बदलना होगा। यह हमें यह याद दिलाती है कि हमें अपने आप को मनुष्य कहने का कोई अधिकार नहीं है।

जिस समाज में दुल्हनों को यातनाएं दी जाती हैं वह सभ्यों का नहीं बल्कि बिलकुल असभ्यों का समाज है। अब ही समय है कि हम सब मिलकर इस कुरीति को उखाडकर अपने आप को मनुष्य कहलाने का अधिकार वापस प्राप्त कर लें। मनुष्य को सभी कठिनाईयों का सामना करने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए।
Read more ...

Saturday 17 December 2022

ऋषभ शेट्टी की जीवनी | rishabh shetty wiki bio dop family biography in hindi

 ऋषभ शेट्टी जिनका असली नाम प्रशांत शेट्टी है,ये एक भारतीय अभिनेता और फिल्म निर्माता हैं,ये मुख्य रूप से कन्नड़ फिल्म में काम करते है,ऋषभ शेट्टी की ब्लॉकबस्टर मूवी किरिक पॉर्टी और कंटारा फिल्म के लिए जाने जाते हैं। 66वे राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और सर्वश्रेष्ठ बाल फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार और कई पुरस्कारों से नवाजा गया है,जब ऋषभ शेट्टी अपने करियर के शुरुआत में थे,तब बॉलीवुड के फिल्म निर्माता उनके गांव फिल्म बनाने के लिए गए थे और उन्होंने ऋषभ शेट्टी के काम को देखा और उन्हें मुंबई आने के लिए कहा,जब ऋषभ शेट्टी मुंबई गए तो उन्हे ड्राइवर और साइड निर्माता का काम दिया गया,ऋषभ शेट्टी ने कुछ समय काम किया और अपने गांव आ गए और गांव से ही फिल्म बनाना चालू किया अभी जाने माने फिल्म निर्माता के रूप में जाने जाते हैं।


ऋषभ शेट्टी की शिक्षा

ऋषभ शेट्टी ने अपनी स्कूली शिक्षा कुंडापुर के स्कूल Board High School in Kundapur, Karnataka से पुरा किया और कॉलेज के लिए vijaya college in jayanagar bengaluru से ग्रैजुएशन किया और Bhandarkars’ Arts & Science College in Kundapura, Karnataka मास्टर किया इसके बाद Government Film & Television Institute in Bengaluru, Karnataka डिप्लोमा पूरा किया है। 

ऋषभ शेट्टी फैमिली

ऋषभ शेट्टी के मां का नाम लक्ष्मी शेट्टी हाउस वाइफ है,और पिता का नाम Y bhaskar है,ये एक एस्ट्रोलॉजर है, इनकी एक बहन है जिनका नाम प्रतिभा हेगड़े है ये विप्रो में काम करते हैंऔर पत्नि का नाम प्रगति शेट्टी है,और बेटी का नाम raadya शेट्टी,बेटे का नाम रणवित शेट्टी है।

ऋषभ शेट्टी प्रारंभिक जीवन

ऋषभ शेट्टी का जन्म 1984 में कर्नाटक के उडुपी जिले के कुंडापुरा के तालुक के केरडी गांव मे हुआ था।अपनी स्कूली शिक्षा कुंडापुरा में पुरा किया और बी कॉम के लिए विजया कालेज में अपना ग्रैजुएशन पूरा किया और अभिनय में Government Film & Television Institute in Bengaluru, Karnataka डिप्लोमा पूरा किया है। ये अपने कालेज के साथ साथ नाटकों में अपना ऐक्टिंग कैरियर की शुरुआत किया और इन्ही नाटकों से अपने सफल कैरियर की शुरुआत किया। 

ऋषभ शेट्टी कन्नड़ फिल्म कैरियर

ऋषभ शेट्टी ने अपना कॉलेज खत्म किया और पानी के डिब्बे रियल एस्टेट और होटल में काम किया करते और फिल्मों में भी कोशिश जारी रखी, फिल्मी दुनिया में क्लैप बॉय स्पार्ट बॉय सहायक निर्देशक काम किया और सीखने लगे, इसी दौरान रक्षित शेट्टी से मुलाकात हुए और दोनो दोस्त बने। 2016 में रक्षीत शेट्टी की फिल्म रिकी  में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया, इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस में सामान्य प्रतिक्रिया मिली,इस फिल्म के बाद ऋषभ शेट्टी ने खुद की निर्देशित फिल्म कीरिक पार्टी ये फिल्म बॉक्स ऑफिस में हिट रहा और 100 करोड़ से ज्यादा की कमाई किया,ये ऋषभ शेट्टी पहली फिल्म थी जिसने 100 से ज्यादा का कलेक्शन किया। इस फिल्म के बाद ऋषभ शेट्टी ने sarkari hi फिल्म को निर्देशित किया इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस से अच्छी प्रतिक्रिया मिली और 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला। ऋषभ ने 2021 में रिलीज़ फिल्म गरुड़ गमना वृषभ वाहना में गैंगस्टर हरि की भूमिका निभाया ये फिल्म व्यवसायिक रूप से अच्छी सफलता मिली,और दर्शकों ने भी इस फिल्म की अच्छी आलोचना किया।

कांटारा और राष्ट्रीय मान्यता

ऋषभ सेट्टी ने होम्बले फिल्म्स के सहयोग से फिल्म कांटारा को बनाया इस फिल्म में ऋषभ ने अभिनय और निर्देशन किया है,ये फिल्म पहले कन्नड़ भाषा में रिलीज़ किया और अच्छी सफलता करने पर हिंदी सहित अन्य 4 भाषा में रिलीज़ किया गया ये कन्नड़ भाषा की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन गई ये फिल्म 2022 में रिलीज़ हुई है,ये फिल्म 2022 की सबसे ज्यादा कलेक्शन करने वाली पहली कन्नड़ फिल्म बन गया। 

फिल्मोग्राफी

अभिनेता के रूप में बनाए गए फिल्म

  • नाम अरेली ओन्डिना को 2010 म
  • तुगलक को 2012 में।
  • अट्टाहास 2013 में।
  • लूसिया 2013 में।
  • उलिदावारु कंदंथे 2014 में।
  • रिकी 2016 में।
  • सरकार हाय। प्रा. शाले 2018 मे।
  • अंबी निंग वायसयथो 2018में।
  • चौड़ी मोहरी वाला पैंट 2019 में।
  • कथा संगम 2019 में। 
  • अवने श्रीमन्नारायण 2019 में।
  • नायक 2021 में। 
  • श्रीकृष्ण@gmail.com 2021 में।
  • गरुड़ गमन वृषभ वाहन 2021 में।
  • मिशान इम्पॉसिबल 2022 में।
  • हरिकठे अल्ला गिरिकाठे 2022 में।
  • कंटारस 2022 में।
  • बेल बाटम 2 2022 में। 
  • महानियारे महानियरे 2022 में।
  • एंटागोनी शेट्टी 2022 में।
  • बैचलर पार्टी 2022 में।

निर्देशक,लेखक और निर्माता के रूप में बनाए गए फिल्म

  • रिकी 2016 में निर्देशक और लेखक के रूप में।
  • किरीक पार्टी 2016 में निर्देशक और लेखक के रूप में।
  • कथा संगम 2019 में निर्माता के रूप में। 
  • 2021 में नायक निर्माता के रूप में। 
  • पेड्रो 2021 में निर्माता के रूप में। 
  • कंटारस 2022 में निर्देशक और लेखक के रूप में। 
  • शिवम्मा 2022 में निर्माता के रूप में।

ऋषभ सेट्टी के प्राप्त अवॉर्ड

  • 64वें फिल्मफेयर अवार्ड्स साउथ,सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के रूप में।
  • 2016 कर्नाटक राज्य फिल्म पुरस्कार,बेस्ट फैमिली एंटरटेनर के रूप में। 
  • छठा सिमा पुरस्कार,सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के लिए।
  • 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार,बेस्ट फैमिली एंटरटेनर के लिऐ।
  • 2018 कर्नाटक राज्य फिल्म पुरस्कार,बेस्ट फैमिली एंटरटेनर के लिऐ। 


मनजोत सिंग जीवनी 

Read more ...

Saturday 5 November 2022

Niya sharma biography in hindi | Nia Sharma (Actress) Age, Boyfriend, Family, net worth,car,Biography in hindi

 निया शर्मा एक भारतीय टीवी सीरियल ऐक्ट्रेस और मॉडल है,निया शर्मा का जन्म 17 सितंबर 1990 को दिल्ली में हुआ था। 20 साल से ही टीवी सीरियल में काम करना सुरु कर दिया था,निया की पहली टीवी सीरियल का नाम काली एक अग्निपरीक्षा है,


एक हजारों में मेरी बहना है,से डेब्यू किया ये सीरियल स्टार प्लस में टेलीकास होती है, इस सीरियल में निया शर्मा मानवी चौधरी का किदार निभाया लोगो ने इस किरदार को बहुत पसंद किया और प्यार दिया। इसके बाद जी टीवी की सीरियल जमाई राजा में रोशनी पटेल की भूमिका निभाई निया इस क़िरदार को भीं लोगो ने बहुत पसंद किया और प्यार दिया,इसके बाद

HTML Table Generator
नाम निया शर्मा
जन्म तारीख   7/10/1990
जन्म स्थान   दिल्ली 
हाईट  5 फिट 4 इंच 
वजन   55 kg 
एजुकेशन  ग्रैजुएशन 
डेब्यू  काली एक अग्निपरीक्षा 
 प्रोफेशन  ऐक्ट्रेस 
इश्क में मरजावां में आरोही कश्यप,और नागिन 4 में वृंदा पारेख की भूमिका निभाया, नागिन सीरियल को लोगों द्वारा बहत पसंद किया गया, यह सीरियल बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय हो गया था। 2017 में खतरो के खिलाड़ी 8 में भाग लिया और फाइल तक पहुंची पर नहीं जीत पाई।

निया शर्मा फैमिली

निया शर्मा की मां का नाम उषा शर्मा है, ये एक हाउस वाइफ हैं,निया के पिता की डेड हो चुका है,इसके बारे में कुछ जानकारी अभी नहीं है,निया का एक भाई है जिसका नाम विनय शर्मा है,ये MNC का काम दिल्ली में करते है। HTML Table Generator
निया शर्मा  फैमिली
मां उषा शर्मा
पिता 
 भाई विनय शर्मा 

 प्रारम्भिक जीवन और शिक्षा

निया का जन्म 17 सितंबर 1990 को दिल्ली में हुआ,निया ने अपने स्कूल की शिक्षा या पढ़ाई St Xavier's school Delhi में पुरा किया और कॉलेज की पढ़ाई Jagan Institute of Management Studies (JIMS), Rohini, Delhi में पुरा किया और ग्रैजुएशन पूरा किया। निया को एक्टिंग बहुत पसंद है,इसलिए कालेज खत्म करते ही अपके ऐक्टिंग केरियर की शुरुआत टीवी सिरियल काली एक अग्निपरीक्षा से शुरू किया। HTML Table Generator
निया शर्मा  एजुकेशन
स्कूल  St. Xavier's School, Delhi 
कॉलेज  Jagan Institute of Management Studies (JIMS), Rohini, Delhi 

निया शर्मा कैरियर

शुरुआती केरियर 2010 से 2013

निया शर्मा ने अपने टेलीविजन केरियर की शुरुआत 2010 में star प्लस के सीरियल काली एक अग्निपरीक्षा से शुरू किया ये सिरियल एक साल तक शूट किया गया था, इस में निया ने अनु का रोल प्ले किया था, इसके बाद निया ने मल्टी स्टार बहने ने निशा मेहता की भूमिका निभाई। अभी तक निया को अपने एक्टिंग कैरियर में उतनी सफलता नहीं मिली थी,फिर 2011 में star plus ने निया को एक हजारों में मेरी बहनर है, सीरियल में मानवी चौधरी के मुख्य भूमिका के लिए हस्ताक्षर किया ये टीवी सीरियल काफ़ी हद तक सफल रहा और ये 2011 से 2014 तक  तीन साल का बहुत ज्यादा सफल दौर रहा निया शर्मा के लिए। 

2014 से 2022 सफलतम कैरियर

2014 ने जी टीवी ने निया को जमाई राजा जो की अक्षय कुमार द्वारा निर्मित,जिसमे निया ने रोशनी पटेल की भूमिका निभाई है। ये सीरियल 2016 तक निया ने काम किया और उन्हें 2017 में विक्रम भट्ट की वेब सिरीज ट्विस्टेड में काम किया और जमाई राजा को छोड़ दिया।  ये वेबसरीज के बाद निया ने कलर्स टीवी की रियलिटी शो खतरो के खिलाड़ी सीजन 8 में भाग लिया इस शो की मेजबानी रोहित शेट्टी कर रहे थे। और फाइनल में प्रवेश किया लेकिन जीत नही मिली। स्टार प्लस के मेरी दुर्गा सिरियल में 2018 में दिखाई थी। इसके बाद 2018 में इश्क में मरजावां में आरोही काश्यप और अंजलि शर्मा की दोहरी भूमिका निभाई थी।ये 2019 तक सफल रूप से चली और बाद में निया ने जमाई 2.0में काम किया।  नवंबर 2019 में नागिन 4 में काम किया इस के खत्म होने के बाद खतरों के खिलाड़ी मेड इन इंडिया में भाग लिया और फाइनल की विजेता बनी। जुलाई 2022 में, यह पुष्टि की गई थी कि वह कलर्स टीवी के नृत्य-आधारित रियलिटी शो झलक दिखला जा 10 में भाग लेंगी।

मीडिया मैं

को 2016 में नंबर 3 और 2017 में नंबर 2 पर ब्रिटिश-आधारित ईस्टर्न आई अखबार द्वारा शीर्ष 50 सबसे सेक्सी एशियाई महिलाओं की सूची में स्थान दिया गया था। 2020 में, शर्मा को टीवी 2020 पर टाइम्स मोस्ट डिज़ायरेबल वुमन में नंबर 2 पर रखा गया था ।

निया शर्मा बॉयफ्रेंड

निया अभी तक अविवहित है,और इनके रिलेशनशिप की जानकारियों के अनुसार इनका पहला बॉयफ्रेंड का नाम वरुण जैन है,कुछ साल बाद ब्रेकअप हो गया इसके बाद दूसरा बॉयफ्रेंड का नाम कुशल टंडन है। 

निया शर्मा कई मौकों पर अपने कथित लव अफेयर्स को लेकर सुर्खियों में आ चुकी हैं। यह अफवाह थी कि वह रहौल सुधीर को डेट कर रही थी। लेकिन बाद में उन्होंने इससे इनकार कर दिया था. हाल ही में, अफवाहें थीं कि उनके और पारस कलानावत के बीच कुछ पक रहा है

निया शर्मा कंट्रोवर्सी 

रेहाना पंडित के साथ निया शर्मा का लिप-लॉक सिर्फ फिल्म में ही नहीं निया शर्मा ने एक इवेंट के दौरान को-स्टार रेहाना पंडित को किस किया था। इसने एक बड़े विवाद का आह्वान किया था। दरअसल, इसके बाद रेहाना को लेस्बियन भी कहा जाने लगा। ट्विस्टेड में निया के लेस्बियन किस ने भी खूब ध्यान खींचा था।

निया शर्मा और देवोलीना भट्टाचार्जी का ट्विटर वॉर
पर्ल वी पुरी मामले पर अपने विचार व्यक्त करने के बाद निया शर्मा ने देवोलीना भट्टाचार्जी के साथ एक ट्विटर युद्ध शुरू कर दिया था। यह इतना बुरा हुआ कि निया ने देवोलीना के डांसिंग स्किल्स पर कमेंट कर दिया। बिग बॉस 13 स्टार ने फिर बदले में इसे वापस दे दिया और निया के फैशन सेंस पर टिप्पणी की। हालांकि, निजी टिप्पणी करने के लिए सबसे पहले निया ने माफी मांगी थी।

निया शर्मा इंस्टाग्राम

निया के इंस्टाग्राम में 7.7 मिलियन में फॉलो करने वाले है,ये अपने इंस्टा हैंडल में अपने बोल्ड पोटोस के कारण हमेशा छाए रहते है। ये इंस्टाग्राम में पैड प्रमोशन के लिए लाखो रुपए चार्ज कराती हैं।

निया शर्मा फेसबुक

निया के फेसबुक में 6.5 मिलियन में फॉलो करने वाले है,ये अपने fb पेज हैंडल में अपने बोल्ड पोटोस के कारण हमेशा छाए रहते है। ये फेसबुक में पैड प्रमोशन के लिए लाखो रुपए चार्ज कराती हैं।

निया शर्मा नेट वर्थ

निया शर्मा एक पॉपुलर टीवी एक्टर और मॉडल है,ये एक एपिसोड का 70 हजार से 1 लाख रुपए लेटी है। और 2022 नेट वर्थ 8 मिलियन यूएसडी है।

निया शर्मा कार कलेक्शन

निया शर्मा के पास अभी 3 कार है, पहली कार काम नाम ऑडी A4 है इसकी कीमत 45 लाख रुपए है,और दूसरी कार का नाम ऑडी Q7 है इसकी कीमत 80 लाख रुपए है,इसके अलावा वोल्वो एक्ससी 90 है जिसकी कीमत 1 करोड़ रुपए है।

फिल्मोग्राफी

टीवी सीरियल

अभी तक निया 11 टीवी सिरियल में काम कर चुकी है जो निम्न हैं, इन सभी में लीड रोल में थी।
  • 2010-11 में काली - एक अग्निपरीक्षा।
  • 2011 में बेहेनिन।
  • 2011 से 2013 तक एक हज़ारों में मेरी बहना है।
  • 2014 से 2016 तक जमाई राजा।
  • 2014 में बॉक्स क्रिकेट लीग 1
  • 2017 में खतरों के खिलाड़ी 8,मेरी दुर्गा।
  • 2018से 2019 तक इश्क में मरजावां।
  • 2019 से 2020 तक नागिन 4।
  • 2020 में खतरों के खिलाड़ी मेड इन इंडिया।
  • 2022 में झलक दिखला जा 10। 

संगीत

  • 2017 में वादा।
  • 2019 में होर पिला।
  • 2020 में गेल लगाना है।
  • 2021 में तुम बेवफा हो,दो घोंट,अंखियां दा घर,गरबे की रात।
  • 2022 में फूंक ले,बालां,पैसा पैसा।

वेबसिरिज

  • 2017 से 2018 तक मुड़।
  • 2019 से 2021 तक जमाई 2.0।

अवॉर्ड

  • 2012 - भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार , देश की धड़कन - सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री - एक हज़ारों में मेरी बहना है के लिए लोकप्रिय।
  • 2015 - भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार , जीआर8! जमाई राजा के लिए फेस फीमेल। 

निया शर्मा QNA

Q.निया शर्मा नशा करती है?
Ans-हा निया शर्मा अल्कोहल का नशा करती हैं। 
Q.निया शर्मा का जन्म कब और कहा हुआ था?
Ans-निया शर्मा का जन्म 17 सितंबर 1990 को दिल्ली मैं हुआ था। 
Q.निया शर्मा के मां का नाम क्या हैं?
Ans-निया शर्मा के मां का नाम उषा शर्मा है।
Q.निया शर्मा के भाई का क्या नाम है?
Ans-निया शर्मा के भाई का नाम विनय शर्मा है। 
Q.निया शर्मा की पहली सीरियल का क्या नाम हैं?
Ans-काली एक अग्निपरीक्षा 
Q.निया शर्मा का नेट वर्थ कितना है?
Ans-निया शर्मा का नेट वर्थ 8 मिलियन यूएसडी है। 
Q.निया शर्मा के पास कौन कौन सी कार हैं?
Ans-निया शर्मा के पास अभी 3 कार है, पहली कार काम नाम ऑडी A4 है इसकी कीमत 45 लाख रुपए है,और दूसरी कार का नाम ऑडी Q7 है इसकी कीमत 80 लाख रुपए है,इसके अलावा वोल्वो एक्ससी 90 है जिसकी कीमत 1 करोड़ रुपए है। 
Read more ...

Friday 4 November 2022

 तुलसी कौन थी?

तुलसी(पौधा) पूर्व जन्म मे एक लड़की थी जिस का नाम वृंदा था, राक्षस कुल में उसका जन्म हुआ था बचपन से ही भगवान विष्णु की भक्त थी.बड़े ही प्रेम से भगवान की सेवा, पूजा किया करती थी.जब वह बड़ी हुई तो उनका विवाह राक्षस कुल में दानव राज जलंधर से हो गया। जलंधर समुद्र से उत्पन्न हुआ था। 

वृंदा बड़ी ही पतिव्रता स्त्री थी सदा अपने पति की सेवा किया करती थी.

एक बार देवताओ और दानवों में युद्ध हुआ जब जलंधर युद्ध पर जाने लगे तो वृंदा ने कहा। 

स्वामी आप युद्ध पर जा रहे है आप जब तक युद्ध में रहेगे में पूजा में बैठ कर आपकी जीत के लिये अनुष्ठान करुगी,और जब तक आप वापस नहीं आ जाते, मैं अपना संकल्प

नही छोडूगी। जलंधर तो युद्ध में चले गये,और वृंदा व्रत का संकल्प लेकर पूजा में बैठ गयी, उनके व्रत के प्रभाव से देवता भी जलंधर को ना जीत सके, सारे देवता जब हारने लगे तो विष्णु जी के पास गये।

सबने भगवान से प्रार्थना की तो भगवान कहने लगे कि – वृंदा मेरी परम भक्त है में उसके साथ छल नहीं कर सकता ।

फिर देवता बोले - भगवान दूसरा कोई उपाय भी तो नहीं है अब आप ही हमारी मदद कर सकते है।

भगवान ने जलंधर का ही रूप रखा और वृंदा के महल में पँहुच गये जैसे

ही वृंदा ने अपने पति को देखा, वे तुरंत पूजा मे से उठ गई और उनके चरणों को छू लिए,जैसे ही उनका संकल्प टूटा, युद्ध में देवताओ ने जलंधर को मार दिया और उसका सिर काट कर अलग कर दिया,उनका सिर वृंदा के महल में गिरा जब वृंदा ने देखा कि मेरे पति का सिर तो कटा पडा है तो फिर ये जो मेरे सामने खड़े है ये कौन है?

उन्होंने पूँछा - आप कौन हो जिसका स्पर्श मैने किया, तब भगवान अपने रूप में आ गये पर वे कुछ ना बोल सके,वृंदा सारी बात समझ गई, उन्होंने भगवान को श्राप दे दिया आप पत्थर के हो जाओ, और भगवान तुंरत पत्थर के हो गये।

सभी देवता हाहाकार करने लगे लक्ष्मी जी रोने लगे और प्रार्थना करने लगे यब वृंदा जी ने भगवान को वापस वैसा ही कर दिया और अपने पति का सिर लेकर वे सती हो गयी।

उनकी राख से एक पौधा निकला तब

भगवान विष्णु जी ने कहा –आज से इनका नाम तुलसी है, और मेरा एक रूप इस पत्थर के रूप में रहेगा जिसे शालिग्राम के नाम से तुलसी जी के साथ ही पूजा जायेगा और में बिना तुलसी जी के भोग स्वीकार नहीं करुगा। तब से तुलसी जी कि पूजा सभी करने लगे। और तुलसी जी का विवाह शालिग्राम जी के साथ कार्तिक मास में किया जाता है.देव-उठावनी एकादशी के दिन इसे तुलसी विवाह के रूप में मनाया जाता है। 



Read more ...

Monday 31 October 2022

Mc stan biography in hindi | MC Stan Height, Age, Girlfriend, Family, Biography in hindi

 MC stan का जन्म 19अगस्त 1999 को p टाउन, यानी की पुणे महाराष्ट्र में ये एक मिडिल क्लास फैमिली से विलॉन्ग करते है, इनका असली नाम अल्ताफ शेख है, ये महज 23 साल की उम्र से ही बहुत फेमस हो गए, ये स्कूल टाइम से ही रैप कर रहे है, ये इंडिया के जाने माने रैपर हैं। 


 इनकी फैन फ्लाइंग भी बहुत ज्यादा हैं ये इतने ज्यादा कंट्रोवर्शी मैं हैं की इन्हे बिग बॉस 16 में पार्टिसिपेट करने का मौका मिला। HTML Table Generator
नाम  mc stan 
 Real नेम  अल्ताफ शैख 
मां का नाम   
पिता का नाम   
गर्लफ्रेंड  अनम shaikh 
हाईट  5 फिट 7 इंच 
 वजन   55 kg 
डेब्यू सॉन्ग  wata 

Mc stan फैमिली

Mc stan का परिवार में तीन लोग रहते हैं,mc stan उनके माता जी और पिता जी mc stan की फैमिली की फाइनेंशियल कंडीशन बहुत खराब थी।

Mc stan व्यक्तिगत जीवन


Mc stan भारत के बहुत जाने माने रैपर हैं ये अपने रैप के लिए बहुत ज्यादा पहचाने जाते है, इनका एक यूट्यूब चैनल है, जिसमे अपने लिखे गाने पब्लिक करते है और इनके यूट्यूब चैनल में 3 मिलियन से ज्यादा सस्क्राइबर है,और mc Stan का पहला रैप का नाम Song: Wata (2018) में आया था। Mc stan ने 12 साल से ही काबली गाना चालू कर दिया था।

Mc stan की शिक्षा

Mc stan ने अपने स्कूल की पढ़ाई Pune के सरकारी स्कूल से पूरी किया और कालेज की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दिया ओर अपना पूरा समय अपने गाने ओर रैप में दिया और 2 से 4 साल में mc stan ने करोड़ों रुपए कमाए। 

Mc stan कैरियर

Mc stan ने अपने सिंगिंग कैरियर की शुरुआत 12 साल की कम उम्र से ही काबली गाना शुरू कर दिया था,और रोड साइड पर बिट बॉक्सिंग भी करते थे,धीरे धीरे रैप गाने लगे और mc stan का पहला गाना wata 2018 में गया।  

Mc Stan girlfriend

बिग बॉस 16 में जब सलमान ने mc stan को पूछा कि आप किस किस को मिस कर रहे हैं,तो mc stan ने अपने मां बाप और स्टूडियो,और अपने gf girlfriend को कहा और अपने gf का नाम भी बताया जिनका नाम anam Shaikh है और ये दोनो अगले साल सगाई करने वाले है,ये सब बताया बिग बॉस 16 में mc stan ने सलमान खान को। 

MC Stan instagram

Mc Stan के इंस्टाग्राम में 3 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर हैं,ये अपने इंस्टा में अपने गाने और रोज के पोस्ट डालते रहते हैं,और इंस्टाग्राम में पैड प्रोमोशन के लिए लाखो रुपए चार्ज करते है।

Mc stan Facebook

Mc Stan के फेसबुक में 2 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर हैं,ये अपने फेसबुक में अपने गाने और रोज के पोस्ट डालते रहते हैं,और फेसबुक में पैड प्रोमोशन के लिए लाखो रुपए चार्ज करते है।

Mc stan यूटब चैनल

Mc stan ka एक यूट्यूब चैनल है, जिसमे वे अपने गाने पोस्ट करते है। इनके चैनल में करीबन 3.3 मिलियन सब्क्राइबर है। और अपने युटुब से एक महीने में 5 से10 लाख तक कमाते है। 

Mc stan नेट वर्थ 

Mc stan अपने यूट्यूब चैनल से हर महीने करीबन 5 से10 लाख अर्न करते हैं, और एक स्टेज शो का 8 से 10 लाख तक चार्ज करते हैं, साल में करीबन 1 से 5 करोड़ तक कमाते है।

Mc stan कार कलेक्शन 

Mc stan के Mayback s650 2.5 करोड़ रुपए की है। 

Mc stan सोंग्स

  • Wata 
  • AST अघफीरुल्ला 
  • खुजा मत
  • लौकी
  • खजवे विचार
  • डिफ येदे की चादर
  • Astaghfirullah
  • दिल पे मत ले
  • आउट सुन 
  • होश में आ
  • एक दिन प्यार
  • 307 तड़ीपार 
  • नुंबरकारी 
  • अमीन
  • स्नेक
  • कहा प्यार है
  • रहमानी कीड़ा
  • ब्रोक इस अ जोक
  • आई एम डॉन
  • Inn log ne maare
  • इंसान
  • जेंडर
  • फुक्क लव
  • बीच
  • हाउ टू हेट
  • बस्ती का हस्ती
  • कल है मेरा शो
  • मां बाप
  • रिग्रेट
  • वन डे उह गौना पे 
  • इंसानियत
  • इंसान 
  • MH 12
  • Shana bann
  • Gender

Mc stan QNA

Q.Mc stan की gf girlfriend का नाम क्या है?
Ans- mc Stan की gf का नाम अनम shaikh हैं। 
Q.Mc stan एज कितनी है?
Ans-mc stan को अभी 23 साल हो रहा है। 
Q.Mc stan अभी कहा रहते है?
Ans-mc stan अभी मुंबई में रहते है। 
Q.Mc stan का जन्म कहा हुआ था?
Ans-mc stan का जन्म पुणे में हुआ था। 
Q.Mc stan नेट वर्थ कितना है। 
Ans-Mc stan का नेट वर्थ 5 करोड रुपए हो सकता है। 
Q.Mc stan के पास कौनसी कार है?
Ans-Mc stan के पास Mayback s650 2.5 करोड़ रुपए की है। 


निया शर्मा बायोग्राफी

Read more ...